एलएलबी के बाद कि पूरी जानकारी L L B Information In Hindi

हॅलो ! इस पोस्ट में हम आपको एलएलबी के बाद क्या करें इसके बारे में जानकारी देने वाले हैं। बहुत लोगों का सपना होता हैं एलएलबी करना लेकिन एलएलबी के बाद काम मिलना इतना आसान नहीं होता। अगर आप वकालत में प्रैक्टिस करके अपना करियर बनाना चाहते हैं तो शुरुआत के कुछ दिनों में आपकी कमाई कम ही रहती हैं। वकालत में करियर बनाने के लिए कुछ लोगों को बहुत साल लग जाते हैं। यह हमारी मेहनत और लाॅ के प्रैक्टिस पर निर्भर होता हैं।

L L B Information In Hindi

एलएलबी के बाद कि पूरी जानकारी L L B Information In Hindi

हम जितनी ज्यादा मेहनत करेंगे उतने ही जल्दी हमें सफलता मिल जाएगी। एलएलबी के बाद अपना करियर बनाने के लिए अलग अलग रास्ते होते हैं। बहुत लोगों को यह नहीं पता होता हैं की वह रास्ते कौन कौन से हैं और एलएलबी के बाद क्या करें इसलिए हम आपको इस पोस्ट में एलएलबी के बाद क्या करें इसके बारे में जानकारी देने वाले हैं। एलएलबी के बाद क्या करें इसके बारे में विस्तार में जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारी पोस्ट अंत तक जरुर पढिए।

एलएलबी के बाद क्या करें ?

  • वकालत में प्रैक्टिस –

ज्यादा से ज्यादा लोग एलएलबी की डिग्री लेने के बाद वकालत में ही प्रैक्टिस करते हैं। लेकिन वकालत में शुरुआती कुछ दिनों में ज्यादा कमाई न होने के वजह से ज्यादा लोग वकालत में टिक नहीं पाते। अगर आप वकालत में प्रैक्टिस करना चाहते हैं तो आपको ज्यादा से ज्यादा मेहनत और प्रैक्टिस करनी होगी। अगर आप वकालत में प्रैक्टिस करना चाहते हैं तो आपको सबसे पहले बार काउंसिल ऑफ इंडिया का एग्जाम देना पड़ता है। इस एग्जाम में उत्तीर्ण होने के बाद आप बार काउंसिल में एनरोल हो जाएंगे। इसके बाद आपको कुछ दिन तक किसी सिनियर वकील के साथ प्रैक्टिस करनी हैं। प्रैक्टिस के समय में आपको कोर्ट में बहुत कुछ सिखने को मिलेगा। कोर्ट की सारी प्रोसिजर आपको प्रैक्टिस करते समय सिखने को मिलेगी। जब आप किसी सिनियर के साथ प्रैक्टिस करते हैं तब आपको कोर्ट से तारीख लेना, ड्राफ्टिंग करना, अदालत के कार्यवाही में हिस्सा लेना, रिसर्च, फाइलिंग इस तरह के काम करने पड़ते हैं। सभी काम अच्छे से सिखने के बाद आप स्वतंत्र रुप से वकालत कर सकते हैं।

  • काॅर्पोरेट लाॅयर –

अभी काॅर्पोरेट लाॅयर की बहुत मांग हैं। काॅर्पोरेट लाॅयर वह होते हैं जो कंपनी को कानूनी सलाह देते हैं और कंपनी के सभी कानूनी काम संभालते हैं। काॅर्पोरेट लाॅयर को कानून की अच्छी जानकारी होना आवश्यक है। इसके अलावा काॅर्पोरेट लाॅयर की कम्युनिकेशन स्कील अच्छी होनी चाहिए। काॅर्पोरेट लाॅयर को अपनी बात दुसरे लोगों के सामने अच्छे से रखना आना चाहिए। शुरुआत में काॅर्पोरेट लाॅयर की सैलरी 2,50,000 से 4,50,000 per year तक होती हैं। लेकिन इसके बाद में 5 से 7 साल के एक्सपिरियंस के बाद काॅर्पोरेट लाॅयर की सैलरी 5,00,000 से 25,00,000 per year हो जाती हैं।

  • सरकारी नौकरी –

आप एलएलबी पुरी करने के बाद सरकारी नौकरी भी कर सकते हैं। एलएलबी क्षेत्र में सरकारी नौकरियों की वैकेंसी निकलती रहती हैं। आप उन नौकरियों के लिए आवेदन कर सकते हैं। इन नौकरियों का वेतन भी बहुत अच्छा होता हैं। लाॅ क्लर्क, जुडिशयल क्लर्कशीप‌ इस तरह की सरकारी नौकरियों की अलग अलग वैकेंसी लाॅ के क्षेत्र में निकलती रहती हैं। एलएलबी के बाद आप UPSC की एग्जाम देकर भी अच्छी पोस्ट पर नौकरी पर लग सकते हैं।

  • जज –

बहुत लोगों का सपना जज बनना यह होता हैं। जज बनने के लिए बहुत मेहनत करनी पड़ती हैं। जज बनने के बाद आपको बहुत मान सम्मान भी मिलता है। जज या न्यायाधीश वह होता हैं जो हर मामले पर सही निर्णय देता हैं। जज के भी अलग अलग पद होते हैं जैसे की मॅजिस्ट्रेट, डिस्ट्रिक्ट जज, हाइकोर्ट जज, सुप्रीम कोर्ट जज आदी। जज बनने के लिए आपको स्टेट पब्लिक सर्विस कमिशन की जो जज के पद के लिए एग्जाम निकाली जाती हैं वह देनी होगी। इस तरह की एग्जाम तीन स्तरों में ली जाती हैं जैसे की प्रीलिमिनरी एग्जाम, मेन्स एग्जाम और इंटरव्यू। इन सभी एग्जाम और इंटरव्यू में पास होने के बाद आपकी जज के पद के लिए नियुक्ति हो सकती हैं। जज के हर पद को अलग अलग सैलरी होती हैं और हर राज्य में सैलरी अलग अलग होती हैं। जज की सैलरी कम से कम 45,000 से लेकर 2,00,000 रुपए तक हो सकती हैं।

  • लाॅ काॅलेज में प्रोफेसर –

बहुत लाॅ स्टुडंट लाॅ डिग्री मिलने के बाद लाॅ काॅलेज में प्रोफेसर बन जाते हैं। अगर आप भी लाॅ काॅलेज में प्रोफेसर बनना चाहते हैं तो आपको सबसे पहले लाॅ की डिग्री प्राप्त करनी होगी और इसके बाद आपको एलएलएम करना होगा। एलएलबी और एलएलएम की डिग्री प्राप्त करने के बाद आप लाॅ काॅलेज में प्रोफेसर के नौकरी के लिए आवेदन कर सकते हैं। इंटरव्यू के बाद आपको लाॅ काॅलेज में प्रोफेसर के पद पर नौकरी मिल सकती है। लाॅ काॅलेज में प्रोफेसर बनने के लिए आपमें कानून का अच्छा ज्ञान और सिखाने की अच्छी कला होनी जरूरी हैं।

FAQ

काॅर्पोरेट लाॅयर कौन है ?

काॅर्पोरेट लाॅयर वह होते हैं जो कंपनी को कानूनी सलाह देते हैं और कंपनी के सभी कानूनी काम संभालते हैं।

काॅर्पोरेट लाॅयर की सैलरी कितनी होती हैं ?

शुरुआत में काॅर्पोरेट लाॅयर की सैलरी 2,50,000 से 4,50,000 per year तक होती हैं। लेकिन इसके बाद में 5 से 7 साल के एक्सपिरियंस के बाद काॅर्पोरेट लाॅयर की सैलरी 5,00,000 से 25,00,000 per year हो जाती हैं।

जज कैसे बनें ?

जज बनने के लिए आपको स्टेट पब्लिक सर्विस कमिशन की जो जज के पद के लिए एग्जाम निकाली जाती हैं वह देनी होगी। इस तरह की एग्जाम तीन स्तरों में ली जाती हैं जैसे की प्रीलिमिनरी एग्जाम, मेन्स एग्जाम और इंटरव्यू। इन सभी एग्जाम और इंटरव्यू में पास होने के बाद आपकी जज के पद के लिए नियुक्ति हो सकती हैं।

जज की सैलरी कितनी होती है ?

जज के हर पद को अलग अलग सैलरी होती हैं और हर राज्य में सैलरी अलग अलग होती हैं। जज की सैलरी कम से कम 45,000 से लेकर 2,00,000 रुपए तक हो सकती हैं।

लाॅ काॅलेज में प्रोफेसर कैसे बनें ?

अगर आप भी लाॅ काॅलेज में प्रोफेसर बनना चाहते हैं तो आपको सबसे पहले लाॅ की डिग्री प्राप्त करनी होगी और इसके बाद आपको एलएलएम करना होगा। एलएलबी और एलएलएम की डिग्री प्राप्त करने के बाद आप लाॅ काॅलेज में प्रोफेसर के नौकरी के लिए आवेदन कर सकते हैं। इंटरव्यू के बाद आपको लाॅ काॅलेज में प्रोफेसर के पद पर नौकरी मिल सकती है।

Categories Law

Leave a Comment